यूपी पुलिस की चूक, 4 साल के मासूम पर किया शांतिभंग का मुकदमा

0
138
पुलिस ने उन्नाव निवासी 4 साल के मासूम पर शांतिभंग की कार्रवाई करते हुए घर पर नोटिस भेजा है
पुलिस ने उन्नाव निवासी 4 साल के मासूम पर शांतिभंग की कार्रवाई करते हुए घर पर नोटिस भेजा है

उत्तर प्रदेश: यूपी पुलिस का एक कारनामा सामने आया है. ऐसा लगता है कि पुलिस को अपराधियों से कम लेकिन मासूमों ज्यादा भय लगता है. ताजा मामले में पुलिस ने उन्नाव निवासी 4 साल के मासूम पर शांतिभंग की कार्रवाई करते हुए घर पर नोटिस भेजा है. मासूम यश स्थानीय बीजेपी नेता का बेटा है. उनका आरोप है कि पुलिस और विरोधियों की साजिश है. जबकि इस गलती का जवाब पुलिस के आला अधिकारीयों के पास भी नहीं है|

मनोहर नगर के रहने वाले बीजेपी नगर मंत्री अनिल गुहार के 4 साल के बेटे यश को शांतिभंग मे निरुद्ध किया गया है. बाकायदा इसके नोटिस घर पर भेजा गया है. इस नोटिस के मुताबिक जब भी पुलिस को शांतिभंग का अंदेशा होगा या फिर चुनाव होने वाले होंगे तो यश को सलाखों के पीछे रहना पड़ेगा. मामले में पिता अनिल का कहना है कि यह विरोधियों और पुलिस की साजिश है. वहीं पुलिस की इस करतूत के बाद अब जिले के आलाधिकारी मुंह छिपाते घूम रहे हैं. साथ ही यह भी कहने को तैयार नहीं हैं कि गंगाघाट पुलिस से बडी चूक हुई है और मामले में कार्यवाई की जाएगी|

इस बीच उन्नाव पुलिस ने खबर का संज्ञान लेते हुए कहा है कि यश के खिलाफ जारी चालान को वापस लिया गया है और. गलत नोटिस भेजने के आरोपी उप निरीक्षक मोहम्मद सईद के विरुद्ध आवश्यक दंडात्मक कार्रवाई की जा रही है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here